खुद को लू से बचाने के लिए करें इन घरेलू तरीकों का इस्तेमाल! नहीं लगेगी फिर आप को लू

गर्मी का मौसम शुरू हो चुका है। इसके साथ ही व्यक्ति को कई तरह की समस्याओं का सामना भी करना पड़ता है। इन्ही में से एक खतरनाक चीज है लू। लू से उत्तर भारत काफी परेशान रहता है। लू लगने पर किसी की भी हालत खराब हो जाती है, कई बार तो लू लगने से लोगों की मौत भी हो जाती है।

नहीं होता लू में किसी दवा का इस्तेमाल:

साधारण तौर पर लू लगने पर किसी तरह की दवा का उपयोग नहीं किया जाता है। लू लगने पर सबसे पहला काम पीड़ित व्यक्ति के शरीर के तापमान को कम करना होता है। आज हम आपको कुछ ऐसे ही घरेलू उपायों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनका इस्तेमाल करके आप अपने शरीर के तापमान को कम कर सकते हैं। इनके इस्तेमाल से लू लगने का खतरा भी कम हो जाता है।

अपनाए ये घरेलू तरीके-

*- आलू बुखारा लेकर उसे गर्म पानी में डाल दें। कुछ समय बाद उसे उसी पानी में मसल दें। इसमें आप नमक चीनी और पुदीना के पत्ते डालकर आम के पने की तरह पी सकते हैं।

*- कुछ इमली को लेकर उसे अच्छी तरह उबाल लें। अब उबली हुई इमली से शर्बत बना लें। इस शर्बत का सेवन लू लगने से बचाता है। लू लगने पर इमली के पानी में तौलिया भीगाकर पीड़ित व्यक्ति के ऊपर पानी का छीटा मारने से आराम मिलता है।

*- धनिये का बीज लेकर उसे पानी में भीगोकर रखें। अब धनिये को अच्छी तरह पानी में ही मसल लें और उसे छानकर उसमें चीनी मिलाकर उसका सेवन करें। इससे लू में बहुत आराम मिलता है।

*- हर रोज प्याज का सेवन करने से भी आपको लू की समस्या नहीं होती है। इसलिए जब भी खाना खाएं, साथ में एक प्याज खाना ना भूलें।

*- मेथी की सुखी हुई कुछ पत्तियों को शाम के समय पानी में भीगोकर रख दें। सुबह इन पत्तियों को पानी में हाथ से ही मसल दें। अब इसे छानकर इस पानी में थोड़ा शहद मिला दें। अब इस घोल को हर दो-दो घंटे पर पीड़ित व्यक्ति को देते रहें। इससे लू में काफी आराम मिलता है।

*- आम के पने के बारे में कुछ बताने की जरूरत ही नहीं है। यह लू में रामबाण इलाज है। इसका सेवन आप हर दिन सुबह-शाम कर सकते हैं। यह आपको लू लगने से बचाता है।