हनीप्रीत से पूछताछ में फेल हुई पुलिस नहीं मिली कोई अहम जानकारी, आज हनीप्रीत की कोर्ट में पेशी

नई दिल्ली: बलात्कारी बाबा की मुंहबोली बेटी और उसकी सबसे बड़ी राजदार को पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद गिरफ्तार तो कर लिया लेकिन उससे कुछ भी जान पानें में अबतक असफल रही है। हनीप्रीत के बारे में आये दिन कोई ना कोई राज खुल रहे हैं लेकिन वो प्रत्यक्ष रूप से हनीप्रीत की तरफ से नहीं खोले गए। हनीप्रीत से जुड़ा कोई व्यक्ति ये सारे राज खोल रहा है। हरियाणा में हुई हिंसा की मास्टरमाइंड कही जानें वाली हनीप्रीत को आज पुलिस पंचकुला कोर्ट में पेश करेगी।

नहीं लगा पुलिस के हाथ कोई ठोस सबूत:

पुलिस उसके पकड़े जानें के दिन से कड़ी मशक्कत कर रही है और सबूत पानें के लिए पूछताछ कर रही है लेकिन उसके हाथ अबतक कोई ठोस सबूत नहीं लगा है। 9 दिनों तक हनीप्रीत के पुलिस रिमांड में होनें के बाद भी पुलिस कुछ पता नहीं लगा पायी है। इससे पुलिस की कामयाबी पर भी सवाल उठनें शुरू हो गए हैं। आपको जानकार हैरानी होगी कि कुछ दिन पहले हनीप्रीत से जुडी हुई एक महिला ने उसके बारे में कई सारे राज उजागर किये थे। उसने बताया था कि हनीप्रीत जब से फरार हुई थी, तब से वह लगातार डेरे के लोगों के संपर्क में थी।

डेरे के लोगों से संपर्क साधनें के लिए वह कई सारे मोबाइल सिम का उपयोग करती थी। सिम को उपयोग करनें के बाद वह उन्हें तोड़कर फेंक देती थी। इतनी अहम जानकारी मिलनें के बाद भी पुलिस उससे सच्चाई कबूल करवा पानें में असमर्थ रही है। यहाँ तक कि पुलिस अबतक हनीप्रीत का ना ही मोबाइल रिकवर कर पायी है और ना ही उसका लैपटॉप। पुलिस के पास अबतक केवल हनीप्रीत का कबूलनामा ही है। हनीप्रीत लगातार खुद को बेगुनाह बता रही है, जबकि अन्य लोगों द्वारा दी जानें वाली जानकारियों के आधार पर हनीप्रीत सबसे बड़ी साजिशकर्ता है।

जानकारी ना देने के पीछे है कोई बड़ी साजिश:

सूत्रों के अनुसार हनीप्रीत कोई बड़ा गेम खेल रही है। पुलिस को जानकारी ना देने के पीछे हनीप्रीत की कोई बहुत बड़ी साजिश है। हनीप्रीत इस बात से अच्छी तरह वाकिफ है कि पुलिस अबतक उसके कबूलनामें के आधार पर ही केस को आगे बढ़ा रही है। अगर पुलिस कोई हनीप्रीत के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिलता है तो यह केस कोर्ट में कमजोर पड़ जायेगा। ऐसे में हनीप्रीत के बच निकलनें की राह आसान हो जाएगी। केस कमजोर पड़ने की स्थिति में वह पुलिस को दिए बयान से भी कोर्ट में मुकर सकती है।

हनीप्रीत को मीडिया की नजरों से बचाकर रखा गया है पंचकुला में:

जानकारी के लिए आपको बता दें हनीप्रीत की पंचकुला से गिरफ्तारी के बाद पुलिस को उसकी 6 दिन की रिमांड मिली थी। उसके बाद इस रिमांड को और तीन दिन के लिए बढ़ा दिया गया। इस समय हनीप्रीत को मीडिया की नजरों से बचाकर पंचकुला में ही रखा गया है। हनीप्रीत के ऊपर राम रहीम की सुनवाई वाले दिन हिंसा भड़काने का आरोप है। उसके ऊपर देशद्रोह का मुकदमा भी दर्ज किया गया है। राम रहीम को जेल से भागानें के लिए उसनें हिंसा की साजिश रची थी। इसमें नाकामयाब होनें के बाद वह खुद को फंसता हुआ देखकर फरार हो गयी।