चमत्कार: हाईवे पर महिलाओं के हुए दो टुकडे, गोद में बैठी मासूम को खरोंच तक नहीं आई

जाको राखे साईयां मार सके न कोई… जी हां कहने वाले सही कहा है की जब बचाने वाला आपको नहीं मारना चाहता तो मौत सामने आकर भी आपका कुछ नहीं बिगाड़ सकती। ऐसा ही कुछ हुआ है। देश के बेहद तेज और भीषण हादसों के लिए जाने जाने वाले इंदौर-अहमदाबाद फोरलेन हाईवे पर। जहां सरदारपुर और मांगोद के बीच धार जिले के हातोद में सोमवार को दर्दनाक हादसा हो गया। जिसमें दो महिलाओं की मौत हो गई। जबकि उनकी दो साल की बच्ची को खरोंच तक नहीं आई।

दो साल की बच्ची ने मौत को हराया

घटना मध्य प्रदेश की है जहां धार जिले के पास हातोड में अहमदाबाद हाईवे पर बाइक में सवार होकर दो महिलाएं अपने बेटे के साथ जा रही थीं, साथ में उनके एक बच्ची भी थी जिसकी उम्र महज दो साल की है। तभी डिवाइडर के उस पार से एक ट्रक खाद लाद कर जा रहा था। तभी अचानक उसका टायर फट गया। अनियंत्रित ट्रक डिवाइडर फांद कर उलटी दिशा में आ गया। ट्रक की चपेट में आने से बचने के लिए दोनों महिलाओं ने बाइक से कूद कर जान बचाने की कोशिश की। बच्ची भी उनकी गोद में थी लेकिन कुदरत को कुछ और ही मंजूर था। ट्रक ने दोनों महिलाओं को चपेट में ले लिया।जिससे दोनों को दो टुकड़े हो गए। जबकि बच्ची को एक खरोंच तक नहीं आई।

क्या है पूरा मामला

जानकारी अनुसार मृतका हातोद निवासी मांगूबाई का मायका उंडेली में है। वे बेटे के साथ उंडेली ले जा रही थी। पड़ोस में रहने वाली गबुरीबाई की रिश्तेदारी भी उंडेली में है। इसलिए वह भी उनके साथ बैठ जा रही थी। मांगूबाई ने अपने साथ बड़े बेटे विनोद की दो साल की बेटी हिमांशी को भी लेकर जा रही गांव से थोड़ी ही दूर वे पहुंची थीं, कि तभी सामने से राजगढ़ की ओर से आए खाद से भरे ट्रक का अगला टायर डिवाइडर से टकराया। जिससे टायर फट गया और ट्रक अनियंत्रित होकर सड़क के दूसरी ओर चल रहीं महिलाओं को को चपेट में ले लिया।

जिसने देखा वो दंग रह गया

भीषण हादसे में दोनों महिलाएं ट्रक की डिस्क में दब गईं और दोनों ने तड़प कर वहीं दम तोड़ दिया। डिस्क में फंसने की वजह से महिलाएं दो भागों में बंट गईं। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक हादसे के बाद बच्ची महिलाओं के शवों के पास रो रही थी। जबकि मंगूबाई का बेटा अनिल मां की ऐसी हालत देख बदहवास हो गया।

 

क्रेन की मदद से बमुश्किल निकाले दोनों के शव

हादसा इतना भयानक था कि उसको देखने के लिए दूर दूर से लोग हाईवे पर पहुंचे। जहां डिस्क की चपेट में आने से दोनों महिलाओं के शरीर दो टुकड़ों में बंट गए और क्षत विक्षत हो गए। क्रेन की मदद से वाहन को उठा कर एक घंटे के बाद शव निकाले गए। बालिका को डॉक्टरों ने पूर्ण स्वस्थ बताया। हादसे के बाद ट्रक चालक मौके से फरार हो गया।