‘बंदर’ में बदलती जा रही है ये लड़की, लोग कहने लगे हैं “मंकी गर्ल”

‘मंकी गर्ल’ जी हां ये नाम आपको सुनने में अजीब लग सकता है पर एक लड़की के लिए अब यही नाम पहचान बनते जा रहा है। वजह है उसकी अजीब सी बिमारी जिसके कारण इस लड़की का चेहरा साधारण लोगों से बिल्कुल अलग दिखता है …ऐसे में ये बच्ची जहां भी जाती है इसे लोग घूर घूर कर देखते है..जो भी करती है लोग उसे अजीब तरह की नजरों से देखते हैं।

‘अमब्रास सिंड्रोम’ नाम की दुर्लभ बिमारी से ग्रसित है लड़की

मंकी गर्ल के नाम से मशहूर इस बच्ची का असली नाम सुपात्रा सासुफान है। वैसे तो और बच्चों की तरह ये बच्ची अपने सारे काम खुद करती है लेकिन एक अजीब तरह की बीमारी की वजह से इस लड़की का फेस पूरा चेहरा बालों से ढ़क गया है। दरअसल ये बच्ची ‘अमब्रास सिंड्रोम’ नाम की दुर्लभ बिमारी से ग्रसित है..  इस बीमारी में पूरे चेहरे पर बाल उग आते हैं ..सुपात्रा के ये बाल चेहरे के अलावा हाथ, कान, पीठ और पैरों पर भी हैं।बालों से छुटकारा पाने के लिए उसके माता-पिता ने लेजर ट्रीटमेंट का भी सहारा लिया, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ।

भिन्न शारीरिक संरचना लिए पैदा हुई थी बच्ची

असल में ये बिमारी बहुत ही दुर्लभ है और अब तक इस बीमारी के महज 50 मामले ही सामने आए हैं। सुपात्रा के पैरेंट्स को भी तभी इस बिमारी का पता चला जब इनकी बच्ची में इसके लक्षण दिखने लगें। हालांकि बच्ची जन्म से ही भिन्न शारीरिक संरचना लिए पैदा हुई थी.. सुपात्रा के पिता समरूइंग ने बताते हैं कि वह जब पैदा हुई थी, तब उसकी सेहत अच्छी नहीं थी। उसकी नाक की दोनों छिद्र सिर्फ एक मिलीमीटर चौड़ी थी। इसके चलते उसे तीन महीने तक इंक्यूबेटर में रखा गया था। कुल मिलाकर वह 10 महीनों तक अस्पताल में रही थी।

बच्चें छेड़ते थें स्कूल में

सुपात्रा के चेहर की वजह से उसे हमेशा ही दिक्कतों का सामना करना पड़ा। आस पास के लोग के साथ स्कूल में भी बच्चे इसका मजाक उड़ाते थे..धीरें धीरे दूसरे बच्चें जब इसके साथ घुलमिल गए तो स्थिति सहज हुई पर अभी भी अक्सर स्कूल में इन बालों के कारण उसके दोस्त व सीनियर छात्र काफी छेड़ते है।

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हो चुका है नाम

एक तरफ जहां अपने फेस की वजह से सुपात्रा को लोगों की नजरों और आलोचनाओं का सामना करना पड़ता है वहीं इस अजीब तरह की बीमारी की वजह से इल बच्ची का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हो गया है।