14 सालों से कपड़ों के नीचे लड़की ने छिपा रखा था कुछ ऐसा की, पता चलते ही उड़ गए सभी के होश

नई दिल्ली – वैसे तो दुनिया में आये दिन कोई न कोई न बिमारी सामने आ रही है। जितनी तेजी से हम इन बिमारियों का इलाज ढूंढ रहे हैं, उतनी ही तेजी से हमारे सामने नई बिमारियां आ रही है। दुनियाभर में आये दिन ऐसे मामले सामने आ रहे हैंजिनमें बच्चों का जन्म अलग-अलग तरह की परेशानियों के साथ होता है। इन बच्चों में कुछ ऐसी बिमारियां होती हैं जिनको न तो पहले कभी देखा गया होता है और न ही ऐसी बिमारी के बारे में किसी ने सुना होता है। इसलिए ऐसी बिमारियों के इलाज के लिए डॉक्टरों को अधिक मेहनत और समय देना पड़ता है। Girl with Weird disease.

 कुछ बिमारियाँ होती है लाइलाज

जो बच्चे बिमारियों के साथ पैदा होते हैं उनके जीवनभर ऐसे रोगों के साये में जीना पड़ता है जिसका इलाज लगभग नामूमकिन होता है। क्योंकि ऐसी बिमारियों का न तो अभी तक कुछ पता है और न ही डॉ. ने ऐसी बिमारियों के लिए इलाज इजाद किया है। अमूमन देखा जाता है कि ऐसे कई मामलों में या तो बच्चे की मौत हो जाती है या फिर वो जिंदगी भर के लिए अपाहिज की जिंदगी व्यतीत करता है। लेकिन कुछ लोग इस तरह के अभिशाप के बाद भी काफी भाग्यशाली होते हैं। ऐसा ही इस लड़की के साथ हुआ।

 

अजीब बिमारी के साथ पैदा हुई थी बच्ची

हम बात कर रहे हैं इथोपिया की रहने वाली वोर्कितु की। जो देखने पर किसी को भी बिल्कुल सामान्य सी लड़की नजर आती थीवह हर काम एक सामान्य लड़की के जैसे ही करती थी। लेकिन उसे भी यह मालूम नहीं था कि वह किस भयंकर बिमारी की शिकार है। दरअसल, उसे अपनी बिमारी का पता तब चला जब उसने एक दिन अपनी एक दोस्त के सामने कपड़े बदले। उसकी दोस्त को उसके शरीर में अजीब बात दिखाई दी और उसने उसे बताई। दरअसल, 14 साल तक वोर्कितु ने अपने शरीर पर एक पैरासाइटिक ट्विन पाल रखा था।

 जुड़वा थी बच्ची

दरअसल, वोर्कितु के पेट के निचले हिस्से में जन्म से ही जुड़े थे। उसके ट्विन के भी दो हाथ और पैर थे। चौकाने वाली बात ये है की ढीले-ढाले कपड़ों पहनने की वजह से 14 सालों तक लोगों को भी इसका पता नहीं चल सका। यहां तक कि घरवालों को भी इस बात का संदेह नहीं हुआ कि वोर्कितु अपने शरीर में पैरासाइट ट्विन पाल रही है। परिवार तो यह मानता था कि उनकी बेटी शापित है। लेकिन, साल 2012 में ऑर्थेपेडिक के मशहूर सर्जन डॉ. एरिक गोकेन ने करीब 8 घंटे की सर्जरी के बाद वोर्कितु की बॉडी से इस हिस्से को अलग कर दिया। अब वह आम लड़की की जिंदगी जी रही है। उसकी जिंदगी को डॉक्टरो ने संवार दिया है।